fbpx


Blog

CLASSIC LIST


March 2, 2021 News

श्री साई मल्टीस्पेशलिटी हॉस्पिटल एवं ट्रॉमा सेंटर , नाहन के नाक, कान एवं गला रोग विभाग में नाहन निवासी , 58 वर्षीय महिला की उपकरण ग्रंथि का सफल इलाज किया गया । नाक, कान एवं गला रोग विशेषज्ञ डॉ अनूप कुमार रॉय ने जानकारी देते हुए बताया की इस केस में महिला रोगी के चेहरे के दाईं तरफ एक गाँठ बनने लगी थी। 2012 में पहली बार रोगी ने सोलन में दिखाया था वहां उसे छोटी समझ कर बिना उपचार के रहने दिया. जिसके बाद धीरे धीरे यह गाँठ बढ़ने लगी। रोगी शनिवार को श्री साई मल्टीस्पेशलिटी हॉस्पिटल एवं ट्रॉमा सेंटर , नाहन में इलाज के लिए आयी। टैस्ट में हमने पाया की ये एक ट्यूमर है जो की महिला के चेहरे के दाईं ओर बाहर की और बढ़ रहा था। रविवार को ऑपरेशन के माध्यम से इस ट्यूमर को निकाल दिया गया। रोगी बिलकुल स्वस्थ है।


डॉ. अनूप कुमार ने बताया की हमारे चेहरे में पैरोटिड ग्रंथियां जिसे उपकरण ग्रंथि भी कहते है। इससे मुँह में लार का निर्माण होता है। पैरोटिड ग्रंथियां सबसे बड़ी लार ग्रंथि हैं। ये ग्रंथि सिर के दोनों ओर कर्णपल्लव के कुछ नीचे स्थित होती हैं. इनकी वाहिनियाँ ऊपरी कृन्तक दाँतों के पीछे खुलती हैं. हमारे मुख में वे लगभग 20% लार को स्रावित करती हैं। इस लार को सीरस (serous) के रूप में भी जाना जाता है यानी अधिक तरल और द्रव। यह भोजन के पाचन का पहला चरण “चबाने” में मदद करती है जिससे भोजन लार की मदद से एक घोल में परिवर्तित हो जाता है और निगलने में आसानी होती है।


नाक, कान एवं गला रोग विशेषज्ञ एवं हेड व नैक सर्जन डॉ. अनूप कुमार रॉय ने बताया की इस प्रकार की यह नाहन क्षेत्र में पहली सर्जरी है। उन्होंने बताया की नाक, कान एवं गला रोग से परेशान रोगी उन्हें प्रत्येक शनिवार एवं रविवार को मिल सकते है। श्री साई मल्टीस्पेशलिटी हॉस्पिटल एवं ट्रॉमा सेंटर , नाहन में गंभीर से गंभीर रोगो का इलाज सम्भव हो रहा है। अब सिरमौर वासिओं को चंडीगढ़ या पंचकूला जैसे बड़े शहरों की और नहीं जाना होगा।



January 18, 2021 News
 श्री साई मल्टीस्पेशलिटी हॉस्पिटल एवं ट्रामा सेंटर , नाहन के तीन वर्ष पुरे होने पर मुफ्त जांच शिविर का आयोजन किया जा रहा है। यह मुफ्त जांच शिविर 24 जनवरी 2021, रविवार को श्री साई मल्टीस्पेशलिटी हॉस्पिटल एवं ट्रामा सेंटर नाहन में सुबह 10 बजे से दोपहर 2 बजे तक आयोजित होगा।

इस शिविर में जनरल एवं लैप्रोस्कोपिक सर्जरी सम्बंधित रोग जैसे पित्ते की पथरी , अपेंडिक्स में सूजन , हर्निया, गुर्दे व् पेशाब की नली की पथरी, पेशाब सम्बंधित समस्याएं , बवासीर आदि रोगो की जांच की जायेंगी। जनरल फिजिशियन सम्बंधित रोग जैसे हृदय रोग / बी पी , सांस संबधित विकार , ठाकर रहना , थायरॉइड की बीमारी , पेट में बार बार दर्द होना ,जिगर सम्बंधित विकार, पीलिया सम्बंधित परेशानिया। स्त्री – प्रसूति एवं बांझपन रोग में छाती की रसोली , बच्चेदानी की रसोली , अत्यधिक माहवारी , कम माहवारी , बच्चे न होना , नलियों की रुकावट ,हाई रिस्क प्रेगनेंसी आदि की जाँच। हड्डी व जोड़ो सम्बंधित रोग जैसे टूटी हड्डियों व् टेड़े मेढे हाथ , पेअर की परेशानी , शरीर में दर्द, जोड़ो में दर्द , घुटना ख़राब होम , पोलियो की वजह से विकलांगता , रीढ़ की हड्डी का दर्द। नेत्र समबन्धित रोग जैसे बाल नेत्र रोग , मोतियाबिंद, काला मोतियाबंद , पलकों का गिरना व् मुड़ना , नजर की जांच , नाखून आदि की जांच। चमड़ी रोग जैसे कील-मुहासे , दाद-खाज एवं खुजली , चहरे का कालापन एवं झाइयां, आँखों के निचे काले घेरे , रुसी एवं बाल झड़ना , रूखी त्वचा , सफ़ेद दाग की जांच। दन्त रोग में हड्डी में दांत फिक्स करना , नकली दांतों का फिक्स्ड सेट , टेढ़े -मेढ़े डेंटन का इलाज , बिना दर्द दांत निकलना , डेंटन की सफाई , मसूदूं में से खून एवं पायरिया , दांतो में ठंडा गरम लगना आदि की जांच । कान -नाक -गला रोग में नाक का लगातार बंद रहना , कान के परदे के पीछे की बिमारियों का इलाज , एलर्जी , टॉन्सिल आदि की जांच। बाल रोग में भूख न लग्न , थकन रहना , वजन न बढ़ना , पेट ख़राब रहना , बच्चो की ग्रोथ में कमी, सांस सम्बंधित परेशानी, बच्चो की मानसिक बीमारियां। फ़िजिओथेरपी में मांसपेशिओं में दर्द व् खिचाव,पोलियो मेलाइटिस ,स्लिप डिस्क, कंधे का दर्द, कंडे का जाम होना , फ्रैक्चर या सर्जरी होने के बाद होने वाली परेशानिया। आयुर्वेद व् पंचकर्मा द्वारा जोड़ो में दर्द , मधुमेह , पुराणी खांसी एवं दमा , अधरंग , नसों की कमजोरी , पीलिया , सर्वाइकल से सम्बंधित रोगो की जांच निशुल्क की जाएंगी। इस दिन सर्जरी के लिए रजिस्ट्रेशन करवाने पर साथ ही लैब टेस्ट पर 10 प्रतिशत की छूट रहेगी।

श्री साईं मल्टीस्पेशलिटी हॉस्पिटल एवं ट्रामा सेंटर नाहन के निदेशक डॉ दिनेश बेदी ने बताया की जिला सिरमौर में बेहतरी स्वास्थ्य सुविधा उपलब्ध करवाते हुए हमें तीन साल हो गए। हम निरंतर प्रयासरत रहते है की जिला सिरमौर के हमारे निवासिओं के लिए उच्च कोटि की स्वास्थ्य सुविधा उपलब्ध करवा सके। तीसरी वर्ष गाँठ के उपलक्षय पर अस्पताल में लगभग 15 डॉक्टरों की ओ ० पी ० डी निशुल्क रहेगी। सिरमौरवासिओं से अनुरोध है की मौके का लाभ उठाये और अपनी स्वास्थ्यए जांच करवाएं।


December 26, 2020 News

श्री साई मल्टीस्पेशलिटी हॉस्पिटल एवं ट्रामा सेंटर, नाहन के नाक , कान एवं गला रोग विभाग में थायरॉइड ट्यूमर की सफल सर्जरी की गयी। डॉ अनूप कुमार रॉय , नाक , कान एवं गला रोग विशेषज्ञ एवं हेड एंड नैक सर्जन द्वारा थायरॉइड ट्यूमर का ऑपरेशन के माध्यम से सफल इलाज किया गया। डॉ अनूप कुमार रॉय ने बताया की इस केस में रोगी को थायरॉइड ट्यूमर, जिसे हिंदी में गेंगा भी कहा जाता है। इस में रोगी के गर्दन के निचले हिस्से में थायराॅइड ग्रंथि में ट्यूमर बन गया था। जिस से गर्दन के नीचे बड़ा मांस इकठा हो गया था।

डॉ अनूप कुमार रॉय ने बताया की गर्दन के निचले हिस्से में स्थित बटरफ्लाई के आकार की ग्रंथि है जो एक विशेष तरह के हार्मोन को शरीर में पहुंचाने का काम करती है। थायराॅइड ग्रंथि से निकलने वाला हार्मोन ब्लड प्रेशर, शरीर का तापमान, शरीर का वजन और हृदय की दर को नियंत्रित करने का काम करता है।थायरॉइड कैंसर, थायराॅइड ग्रंथि में विकसित होता है, जो शुरूआती लक्षण के रूप में गर्दन में गांठ, सूजन, आवाज में भारीपन, वजन बढ़ना, वजन घटना आदि लक्षणों के रूप में दिखाई देता है।

Dr. Anup Kumar Roy, ENT Specialist ,Head & Neck Surgeon

उन्होंने ने कहाँ की नाक ,कान, गले से सम्बंधित रोगो के लिए श्री साई मल्टीस्पेशलिटी हॉस्पिटल एवं ट्रामा सेंटर, नाहन में वो प्रत्येक शनिवार एवं रविवार को अपनी सेवाएं दे रहे है। नाक ,कान , गले, हेड एंड नैक सर्जरी से सम्बंधित गंभीर रोगो का इलाज नाहन में ही उपलबध है। अब किसी भी गंभीर समस्या के लिए रोगी को नाहन से बाहर जाने की कोई आवशयकता नहीं है। श्री साई मल्टीस्पेशलिटी हॉस्पिटल एवं ट्रामा सेंटर में हर गंभीर से गंभीर बीमारी का इलाज सफलता पूर्वक किया जा रहा है।


Copyright by Shri Sai Hospital 2018. All Rights Reserved.