fbpx


Blog

CLASSIC LIST


February 4, 2021 News

श्री साई मल्टीस्पेशलिटी हॉस्प्टिल एवं टॉम सेंटर नाहन के दन्त चिकित्सा विभाग में सफल 6 इम्प्लांट सर्जरी की गयी। इस केस में 61 वर्षीये व्यक्ति के सभी निचले दांत टूट गए थे। रोगी की दांत लगाने के लिए निचली जबड़े की हड्डी भी बहुत कम थी। और उनके द्वारा बाहर पहले करवाई गयी इम्प्लांट सर्जरी फेल हो रही थी। श्री साई मल्टीस्पेशलिटी हॉस्प्टिल एवं टॉम सेंटर नाहन के दन्त चिकित्सा विभाग में सफल इम्प्लांट सर्जरी की गयी।


डॉ दिशा मनकू ने बताया की यह केस बहुत मुश्किल था रोगी के निचले जबड़े में हड्डी बहुत कम थी तो हमे इस रोगी में बोन ग्राफ्ट के माधयम से निचली जबड़े की हड्डी को बढ़ाया और उस पर इम्प्लांट सर्जरी की । तीन महीने के समय अंतराल में यह हड्डी मजबूत हो जाएगी और उसके बाद उस पर फिक्स्ड दांत लगवा दिए जाएंगे। डॉ दिशा मनकू ने बताया हमारी टीम में डॉ. अंकुश गर्ग , डॉ दिशा एवं डॉ. आरुषि में इस सफल इम्प्लांट सर्जरी को किया। उन्होंने कहा की श्री साई मल्टीस्पेशलिटी हॉस्प्टिल एवं टॉम सेंटर नाहन में गंभीर से गंभीर रोगों का इलाज सफलता पूर्वक किया जा रहा है। अब गंभीर समस्या के लिए नाहन से बहार जाने की आवश्यकता नहीं है।



January 18, 2021 News
 श्री साई मल्टीस्पेशलिटी हॉस्पिटल एवं ट्रामा सेंटर , नाहन के तीन वर्ष पुरे होने पर मुफ्त जांच शिविर का आयोजन किया जा रहा है। यह मुफ्त जांच शिविर 24 जनवरी 2021, रविवार को श्री साई मल्टीस्पेशलिटी हॉस्पिटल एवं ट्रामा सेंटर नाहन में सुबह 10 बजे से दोपहर 2 बजे तक आयोजित होगा।

इस शिविर में जनरल एवं लैप्रोस्कोपिक सर्जरी सम्बंधित रोग जैसे पित्ते की पथरी , अपेंडिक्स में सूजन , हर्निया, गुर्दे व् पेशाब की नली की पथरी, पेशाब सम्बंधित समस्याएं , बवासीर आदि रोगो की जांच की जायेंगी। जनरल फिजिशियन सम्बंधित रोग जैसे हृदय रोग / बी पी , सांस संबधित विकार , ठाकर रहना , थायरॉइड की बीमारी , पेट में बार बार दर्द होना ,जिगर सम्बंधित विकार, पीलिया सम्बंधित परेशानिया। स्त्री – प्रसूति एवं बांझपन रोग में छाती की रसोली , बच्चेदानी की रसोली , अत्यधिक माहवारी , कम माहवारी , बच्चे न होना , नलियों की रुकावट ,हाई रिस्क प्रेगनेंसी आदि की जाँच। हड्डी व जोड़ो सम्बंधित रोग जैसे टूटी हड्डियों व् टेड़े मेढे हाथ , पेअर की परेशानी , शरीर में दर्द, जोड़ो में दर्द , घुटना ख़राब होम , पोलियो की वजह से विकलांगता , रीढ़ की हड्डी का दर्द। नेत्र समबन्धित रोग जैसे बाल नेत्र रोग , मोतियाबिंद, काला मोतियाबंद , पलकों का गिरना व् मुड़ना , नजर की जांच , नाखून आदि की जांच। चमड़ी रोग जैसे कील-मुहासे , दाद-खाज एवं खुजली , चहरे का कालापन एवं झाइयां, आँखों के निचे काले घेरे , रुसी एवं बाल झड़ना , रूखी त्वचा , सफ़ेद दाग की जांच। दन्त रोग में हड्डी में दांत फिक्स करना , नकली दांतों का फिक्स्ड सेट , टेढ़े -मेढ़े डेंटन का इलाज , बिना दर्द दांत निकलना , डेंटन की सफाई , मसूदूं में से खून एवं पायरिया , दांतो में ठंडा गरम लगना आदि की जांच । कान -नाक -गला रोग में नाक का लगातार बंद रहना , कान के परदे के पीछे की बिमारियों का इलाज , एलर्जी , टॉन्सिल आदि की जांच। बाल रोग में भूख न लग्न , थकन रहना , वजन न बढ़ना , पेट ख़राब रहना , बच्चो की ग्रोथ में कमी, सांस सम्बंधित परेशानी, बच्चो की मानसिक बीमारियां। फ़िजिओथेरपी में मांसपेशिओं में दर्द व् खिचाव,पोलियो मेलाइटिस ,स्लिप डिस्क, कंधे का दर्द, कंडे का जाम होना , फ्रैक्चर या सर्जरी होने के बाद होने वाली परेशानिया। आयुर्वेद व् पंचकर्मा द्वारा जोड़ो में दर्द , मधुमेह , पुराणी खांसी एवं दमा , अधरंग , नसों की कमजोरी , पीलिया , सर्वाइकल से सम्बंधित रोगो की जांच निशुल्क की जाएंगी। इस दिन सर्जरी के लिए रजिस्ट्रेशन करवाने पर साथ ही लैब टेस्ट पर 10 प्रतिशत की छूट रहेगी।

श्री साईं मल्टीस्पेशलिटी हॉस्पिटल एवं ट्रामा सेंटर नाहन के निदेशक डॉ दिनेश बेदी ने बताया की जिला सिरमौर में बेहतरी स्वास्थ्य सुविधा उपलब्ध करवाते हुए हमें तीन साल हो गए। हम निरंतर प्रयासरत रहते है की जिला सिरमौर के हमारे निवासिओं के लिए उच्च कोटि की स्वास्थ्य सुविधा उपलब्ध करवा सके। तीसरी वर्ष गाँठ के उपलक्षय पर अस्पताल में लगभग 15 डॉक्टरों की ओ ० पी ० डी निशुल्क रहेगी। सिरमौरवासिओं से अनुरोध है की मौके का लाभ उठाये और अपनी स्वास्थ्यए जांच करवाएं।


December 15, 2020 News

श्री साई मल्टीस्पेशलिटी हॉस्प्टिल एवं टॉम सेंटर नाहन के दन्त चिकित्सा विभाग में टूटे जबड़े का किया सफल ऑपरेशन किया गया। इस केस में 22 वर्षीये युवक का रोड दुर्घटना के कारण जबड़ा दो जगह से टूट गया था। जिसे दन्त चिकित्सा विभाग के ड्रॉक्टर्स की टीम द्वारा इंटरमैक्सिलरी फिक्सेशन के माधयम से दुबारा जोड़ा गया।


डॉ दिशा मनकू ने बताया की दुर्घटना के बाद जैसे ही इमरजेंसी में युवक डेंटल विभाग में आया तो उसके जबड़े में दो जगह पर ब्रेकेज देखा गया। हमारी टीम ने तुरंत रोगी की टरमैक्सिलरी फिक्सेशन सर्जरी करने का फैसला लिया और युवक के जबड़े को जोड़ा। फिलहाल युवक लिक्विड डाइट पर है।

डॉ दिशा मनकू ने बताया की श्री साई मल्टीस्पेशलिटी हॉस्प्टिल एवं टॉम सेंटर नाहन में गंभीर से गंभीर रोगों का इलाज सफलता पूर्वक किया जा रहा है। अब गंभीर समस्या के लिए नाहन से बहार जाने की आवश्यकता नहीं।


Copyright by Shri Sai Hospital 2018. All Rights Reserved.