fbpx


Blog

CLASSIC LIST


January 18, 2021 News
 श्री साई मल्टीस्पेशलिटी हॉस्पिटल एवं ट्रामा सेंटर , नाहन के तीन वर्ष पुरे होने पर मुफ्त जांच शिविर का आयोजन किया जा रहा है। यह मुफ्त जांच शिविर 24 जनवरी 2021, रविवार को श्री साई मल्टीस्पेशलिटी हॉस्पिटल एवं ट्रामा सेंटर नाहन में सुबह 10 बजे से दोपहर 2 बजे तक आयोजित होगा।

इस शिविर में जनरल एवं लैप्रोस्कोपिक सर्जरी सम्बंधित रोग जैसे पित्ते की पथरी , अपेंडिक्स में सूजन , हर्निया, गुर्दे व् पेशाब की नली की पथरी, पेशाब सम्बंधित समस्याएं , बवासीर आदि रोगो की जांच की जायेंगी। जनरल फिजिशियन सम्बंधित रोग जैसे हृदय रोग / बी पी , सांस संबधित विकार , ठाकर रहना , थायरॉइड की बीमारी , पेट में बार बार दर्द होना ,जिगर सम्बंधित विकार, पीलिया सम्बंधित परेशानिया। स्त्री – प्रसूति एवं बांझपन रोग में छाती की रसोली , बच्चेदानी की रसोली , अत्यधिक माहवारी , कम माहवारी , बच्चे न होना , नलियों की रुकावट ,हाई रिस्क प्रेगनेंसी आदि की जाँच। हड्डी व जोड़ो सम्बंधित रोग जैसे टूटी हड्डियों व् टेड़े मेढे हाथ , पेअर की परेशानी , शरीर में दर्द, जोड़ो में दर्द , घुटना ख़राब होम , पोलियो की वजह से विकलांगता , रीढ़ की हड्डी का दर्द। नेत्र समबन्धित रोग जैसे बाल नेत्र रोग , मोतियाबिंद, काला मोतियाबंद , पलकों का गिरना व् मुड़ना , नजर की जांच , नाखून आदि की जांच। चमड़ी रोग जैसे कील-मुहासे , दाद-खाज एवं खुजली , चहरे का कालापन एवं झाइयां, आँखों के निचे काले घेरे , रुसी एवं बाल झड़ना , रूखी त्वचा , सफ़ेद दाग की जांच। दन्त रोग में हड्डी में दांत फिक्स करना , नकली दांतों का फिक्स्ड सेट , टेढ़े -मेढ़े डेंटन का इलाज , बिना दर्द दांत निकलना , डेंटन की सफाई , मसूदूं में से खून एवं पायरिया , दांतो में ठंडा गरम लगना आदि की जांच । कान -नाक -गला रोग में नाक का लगातार बंद रहना , कान के परदे के पीछे की बिमारियों का इलाज , एलर्जी , टॉन्सिल आदि की जांच। बाल रोग में भूख न लग्न , थकन रहना , वजन न बढ़ना , पेट ख़राब रहना , बच्चो की ग्रोथ में कमी, सांस सम्बंधित परेशानी, बच्चो की मानसिक बीमारियां। फ़िजिओथेरपी में मांसपेशिओं में दर्द व् खिचाव,पोलियो मेलाइटिस ,स्लिप डिस्क, कंधे का दर्द, कंडे का जाम होना , फ्रैक्चर या सर्जरी होने के बाद होने वाली परेशानिया। आयुर्वेद व् पंचकर्मा द्वारा जोड़ो में दर्द , मधुमेह , पुराणी खांसी एवं दमा , अधरंग , नसों की कमजोरी , पीलिया , सर्वाइकल से सम्बंधित रोगो की जांच निशुल्क की जाएंगी। इस दिन सर्जरी के लिए रजिस्ट्रेशन करवाने पर साथ ही लैब टेस्ट पर 10 प्रतिशत की छूट रहेगी।

श्री साईं मल्टीस्पेशलिटी हॉस्पिटल एवं ट्रामा सेंटर नाहन के निदेशक डॉ दिनेश बेदी ने बताया की जिला सिरमौर में बेहतरी स्वास्थ्य सुविधा उपलब्ध करवाते हुए हमें तीन साल हो गए। हम निरंतर प्रयासरत रहते है की जिला सिरमौर के हमारे निवासिओं के लिए उच्च कोटि की स्वास्थ्य सुविधा उपलब्ध करवा सके। तीसरी वर्ष गाँठ के उपलक्षय पर अस्पताल में लगभग 15 डॉक्टरों की ओ ० पी ० डी निशुल्क रहेगी। सिरमौरवासिओं से अनुरोध है की मौके का लाभ उठाये और अपनी स्वास्थ्यए जांच करवाएं।


January 16, 2021 News
श्री साई मल्टीस्पेशलिटी हॉस्पिटल एवं ट्रामा सेंटर, नाहन के नाक , कान एवं गला रोग विभाग में कान में छेद की सफल सर्जरी की गयी। डॉ अनूप कुमार रॉय , नाक , कान एवं गला रोग विशेषज्ञ द्वारा कान के पर्दे में छेद का, ऑपरेशन के माध्यम से सफल इलाज किया गया। डॉ अनूप कुमार रॉय ने बताया की इस केस में ३० वर्षीय युवक के कान से कम सुनाई देता था व् उसका कान निरंतर बहता रहता था। चेकअप के बाद पता चला की युवक के बांय कान के पर्दे में छेद होने के कारण ऐसा हो रहा है।
Dr. Anup Kumar Roy, ENT Specialist, Head & Neck Surgeon
डॉ अनूप कुमार रॉय ने बताया कान के पर्दे में छेद का मतलब व्यक्ति के कान के अंदर टिम्पेनिक मेम्ब्रेन का फटना होता है। टिम्पेनिक मेम्ब्रेन एक पतला टिशू होता है जो आपके मध्य कान व् भीतरी कान को विभाजित करता है। जब ध्वनि तरंगे आपके कान में प्रवेश करती है तब इस मेम्ब्रेन में कम्पन होती है जो हमें सुनने में मदद करती है। तो यदि कान में छेद होता है तो आपके सुनने की क्षमता पर प्रभाव पड़ता है।
 
इस केस में हमने युवक को सुन किया और बिना दर्द के टिम्पेनोप्लास्टी सर्जरी के माध्यम से इलाज किया। टिम्पेनोप्लास्टी सर्जरी में कान को बाहर से चीरा लगाकर खोला जाता है। जहाँ से ऑपरेशन के माध्यम से कान के पर्दे में हुए छेद को बंद किया जाता है।  उन्होंने ने कहाँ की नाक ,कान, गले से सम्बंधित रोगो के लिए श्री साई मल्टीस्पेशलिटी हॉस्पिटल एवं ट्रामा सेंटर, नाहन में वो प्रत्येक शनिवार एवं रविवार को अपनी सेवाएं दे रहे है। नाक ,कान गले से सम्बंधित गंभीर रोगो का इलाज नाहन में ही उपलबध है। अब किसी भी गंभीर समस्या के लिए रोगी को नाहन से बाहर जाने की कोई आवशयकता नहीं है। श्री साई मल्टीस्पेशलिटी हॉस्पिटल एवं ट्रामा सेंटर में हर गंभीर से गंभीर बीमारी का इलाज सफलता पूर्वक किया जा रहा है। अस्पताल में इ ० एस ० आई और हेल्थ केयर कार्ड पर पर इलाज किया जाता है।


December 26, 2020 News

श्री साई मल्टीस्पेशलिटी हॉस्पिटल एवं ट्रामा सेंटर, नाहन के नाक , कान एवं गला रोग विभाग में थायरॉइड ट्यूमर की सफल सर्जरी की गयी। डॉ अनूप कुमार रॉय , नाक , कान एवं गला रोग विशेषज्ञ एवं हेड एंड नैक सर्जन द्वारा थायरॉइड ट्यूमर का ऑपरेशन के माध्यम से सफल इलाज किया गया। डॉ अनूप कुमार रॉय ने बताया की इस केस में रोगी को थायरॉइड ट्यूमर, जिसे हिंदी में गेंगा भी कहा जाता है। इस में रोगी के गर्दन के निचले हिस्से में थायराॅइड ग्रंथि में ट्यूमर बन गया था। जिस से गर्दन के नीचे बड़ा मांस इकठा हो गया था।

डॉ अनूप कुमार रॉय ने बताया की गर्दन के निचले हिस्से में स्थित बटरफ्लाई के आकार की ग्रंथि है जो एक विशेष तरह के हार्मोन को शरीर में पहुंचाने का काम करती है। थायराॅइड ग्रंथि से निकलने वाला हार्मोन ब्लड प्रेशर, शरीर का तापमान, शरीर का वजन और हृदय की दर को नियंत्रित करने का काम करता है।थायरॉइड कैंसर, थायराॅइड ग्रंथि में विकसित होता है, जो शुरूआती लक्षण के रूप में गर्दन में गांठ, सूजन, आवाज में भारीपन, वजन बढ़ना, वजन घटना आदि लक्षणों के रूप में दिखाई देता है।

Dr. Anup Kumar Roy, ENT Specialist ,Head & Neck Surgeon

उन्होंने ने कहाँ की नाक ,कान, गले से सम्बंधित रोगो के लिए श्री साई मल्टीस्पेशलिटी हॉस्पिटल एवं ट्रामा सेंटर, नाहन में वो प्रत्येक शनिवार एवं रविवार को अपनी सेवाएं दे रहे है। नाक ,कान , गले, हेड एंड नैक सर्जरी से सम्बंधित गंभीर रोगो का इलाज नाहन में ही उपलबध है। अब किसी भी गंभीर समस्या के लिए रोगी को नाहन से बाहर जाने की कोई आवशयकता नहीं है। श्री साई मल्टीस्पेशलिटी हॉस्पिटल एवं ट्रामा सेंटर में हर गंभीर से गंभीर बीमारी का इलाज सफलता पूर्वक किया जा रहा है।



December 15, 2020 News

श्री साई मल्टीस्पेशलिटी हॉस्प्टिल एवं टॉम सेंटर नाहन के दन्त चिकित्सा विभाग में टूटे जबड़े का किया सफल ऑपरेशन किया गया। इस केस में 22 वर्षीये युवक का रोड दुर्घटना के कारण जबड़ा दो जगह से टूट गया था। जिसे दन्त चिकित्सा विभाग के ड्रॉक्टर्स की टीम द्वारा इंटरमैक्सिलरी फिक्सेशन के माधयम से दुबारा जोड़ा गया।


डॉ दिशा मनकू ने बताया की दुर्घटना के बाद जैसे ही इमरजेंसी में युवक डेंटल विभाग में आया तो उसके जबड़े में दो जगह पर ब्रेकेज देखा गया। हमारी टीम ने तुरंत रोगी की टरमैक्सिलरी फिक्सेशन सर्जरी करने का फैसला लिया और युवक के जबड़े को जोड़ा। फिलहाल युवक लिक्विड डाइट पर है।

डॉ दिशा मनकू ने बताया की श्री साई मल्टीस्पेशलिटी हॉस्प्टिल एवं टॉम सेंटर नाहन में गंभीर से गंभीर रोगों का इलाज सफलता पूर्वक किया जा रहा है। अब गंभीर समस्या के लिए नाहन से बहार जाने की आवश्यकता नहीं।



December 15, 2020 News

श्री साई पोलीक्लीनिक , कालाअम्ब में रविवार को निशुल्क जांच शिविर का आयोजन किया गया। शिविर में जनरल फिजिशियन , चमड़ी रोग विशेषज्ञ , हड्डी रोग विशेषज्ञ , नेत्र रोग विशेषज्ञ और स्त्री एवं प्रसूति रोग विशेषज्ञ की ओ ० पी ० डी निशुल्क रखी गयी। जिस में काला अम्ब के लगभग 150 लोगों की विभिन्न स्वास्थ्य सम्बंधित समस्याओं कि जांच की गयी।

 


श्री साईं पोलीक्लीनिक , काला अम्ब के संयोजक लक्ष्य बंसल ने जानकारी देते हुए बताया की काला अम्ब के निवासिओं के लिए श्री साईं पालीक्लिनिक , काला अम्ब में रविवार को निशुल्क जांच शिविर का आयोजन किया गया। जिसमें श्री साईं मल्टीस्पेशलिटि हॉस्पिटल एवं ट्रामा सेंटर, नाहन के विभिन्न रोगों के विशेषज्ञ की निशुल्क सेवाएं उपलब्ध करवाई गयी। शिविर में जनरल फिजिशियन डॉ. बलदेव, चमड़ी रोग विशेषज्ञ डॉ. साहिल परुथी , हड्डी रोग विशेषज्ञ डॉ. पि.एस.एन प्रसाद , नेत्र रोग विशेषज्ञ जितेंदर और स्त्री एवं प्रसूति रोग विशेषज्ञ डॉ. सुविधि परुथी की ओ ० पी ० डी निशुल्क रखी गयी। इन् सभी विशेषज्ञों की सुविधा एक जगह पर उपलब्ध होने से काला अम्ब निवासिओं को बेहद लाभदायक रहा।

अधिक जानकारी देते हुए लक्ष्य बंसल ने बताया की इस कोरोना काल के दौरान पूरी सावधानी बरती गयी। कोविड के नियमो का पूर्ण रूप से पालन किया गया। जिसमें मास्क , सैनिटाइज़र एवं सोशल डिस्टन्सिंग का ध्यान रखा गया।



December 11, 2020 News

श्री साईं मल्टीस्पेशलिटी हॉस्पिटल एवं ट्रामा सेंटर , नाहन में नवंबर माह के सर्वश्रेष्ठ कर्मचारी का चयन किया गया। इस माह श्री साईं मल्टीस्पेशलिटी हॉस्पिटल एवं ट्रामा सेंटर , नाहन में कार्येरत दीक्षा सिस्टर व मुकेश कुमार को “बेस्ट एम्प्लॉई ऑफ़ द मंथ” के ख़िताब से नवाजा गया। दीक्षा सिस्टर आई ० सी ० यु में नर्स के पद पर अपनी सेवाएं दे रहें है जबकि मुकेश कुमार श्री साईं मल्टीस्पेशलिटी हॉस्पिटल एवं ट्रामा सेंटर , नाहन में फिजियोथेरेपी विभाग में कार्यरत है।


नवंबर माह में उत्कृष्ट कार्य करने पर इन दोनों का नाम चयनित किया गया। इस अवसर पर श्री साईं मल्टीस्पेशलिटी हॉस्पिटल एवं ट्रामा सेंटर , नाहन के निदेशक डॉ दिनेश बेदी जी ने सर्वश्रेष्ठ कर्मचारी चयनित होने पर दोनों को बधाई दी व् सभी कर्मचारियों को आगे आने वाले समय में सर्वश्रेष्ठ कर्मचारी बनने के लिए प्रोत्साहित किया।


दीक्षा सिस्टर ने बताया की वो साई हॉस्पिटल नाहन में पिछले तीन सालों से कार्य कर रही है। आज ये सम्मान पा कर वो गर्वान्वित महसूस कर रही है। अस्पताल प्रशाशन का धन्यवाद करते हुए दीक्षा ने सभी सभागिओं का भी धन्यवाद् किया जो उनके कार्य में उनके सहयोगी रहते है। फिजियोथेरेपी विभाग के मुकेश कुमार ने भी सभी का धन्यवाद करते हुए कहाँ की पिछले तीन सालों से हॉस्पिटल में सेवा रत हूँ। आज के सम्मान के लिए सभी का धन्यवाद करता हूँ।


सर्वश्रेष्ठ कर्मचारी कार्येक्रम का आयोजन आज श्री साईं मल्टीस्पेशलिटी हॉस्पिटल एवं ट्रामा सेंटर , नाहन के सभागार में किया गया। सर्वश्रेष्ठ कर्मचारी को प्रशश्ति पत्र एवं ट्रॉफी उपहार स्वरुप दिया गया।



December 4, 2020 News

श्री साई ग्रुप ऑफ़ हॉस्पिटल्स द्वारा निसंतान दम्पतियों के लिए शुरू किया गया श्री साई आई ० वी ० एफ सेंटर।

श्री साई ग्रुप ऑफ़ हॉस्पिटल्स की निदेशक डॉ श्रद्धा बेदी , स्त्री, बाँझपन एवं प्रसूति रोग विशेषज्ञ एवं डॉ दिनेश बेदी , जनरल एवं लप्रोस्कोपिक सर्जन द्वारा श्री साई आई ० वी ० एफ सेंटर की नीव अम्बाला में रखी गयी। निसंतान दम्पतियों के लिए आई ० वी ० एफ के माध्यम से माता पिता बनने का सपना पूरा करेगा श्री साई आई ० वी ० एफ सेंटर।
जिला सिरमौर के निसंतान दम्पति भी श्री साई आई ० वी ० एफ सेंटर की आई ० वी ० एफ ट्रीटमेंट ले सकतें है। डॉ श्रद्धा बेदी , स्त्री, बाँझपन एवं प्रसूति रोग विशेषज्ञ , श्री साईं मल्टीस्पेशलिटी हॉस्पिटल एवं ट्रामा सेंटर , नाहन में प्रत्येक वीरवार शाम चार से छे बजे तक अपनी सेवाएं देंगी,जिसमें सिरमौर जिला के निसंतान दम्पति आई ० वी ० एफ ट्रीटमेंट के विषय में परामर्श व ट्रीटमेंट ले सकेंगे। बाकि दिन श्री साई आई ० वी ० एफ सेंटर अम्बाला में डॉ श्रद्धा बेदी से आई ० वी ० एफ ट्रीटमेंट के लिए मिल सकते हैं।


श्री साई ग्रुप ऑफ़ हॉस्पिटल्स के निदेशक डॉ दिनेश बेदी ने जानकारी देते हुए बताया की श्री साई आई ० वी ० एफ सेंटर निसंतान दम्पतियों के लिए एक उम्मीद की किरण है। निराश निसंतान दम्पति जगह जगह इलाज करवाने के बावजूद भी संतान उत्पति में असमर्थ रह जाते हैं। बड़े शहरों के आई ० वी ० एफ सेंटर में खर्च को देख कर अपना इलाज नहीं करवा पाते। उन सभी दम्पतिओं के लिए श्री साईं हॉस्पिटल्स ने आई ० वी ० एफ सेंटर की शुरुवात की है। डॉ श्रद्धा बेदी , बांझपन विशेषज्ञ / आई ० वी ० एफ एक्सपर्ट एवं उनकी बेहतरीन टीम के माध्यम से निसंतान दम्पतिओं को मिले सकेगी ” गोद भराई की गुड न्यूज़ ”.
डॉ दिनेश बेदी ने बताया की श्री साईं हॉस्पिटल की हमेशा से ही कोशिश रहती है की नाहन व सिरमौर वासिओं को बड़े शहरों में महंगे इलाज के लिए न भटकना पड़े। इस लिए समय समय पर हम श्री साईं हॉस्पिटल में अपनी स्वास्थ्य सुविधाओं को बेहतरीन करने में प्रयासरत रहते है। इसी कड़ी में श्री साई आई ० वी ० एफ सेंटर की शुरुवात की गई है।



December 2, 2020 News

दन्त चिकित्सा विभाग में मंगलवार को की गयी सफल इम्प्लांट सर्जरी


श्री साई मल्टीस्पेशलिटी हॉस्पिटल एवं ट्रॉमा सेंटर नाहन में दन्त चिकित्सा विभाग में मंगलवार को सफल इम्प्लांट सर्जरी की गयी। इस सर्जरी में मरीज का फुल माउथ रिहैबिलिटेशन प्रोसेस ( Full Mouth Rehabilitation Process)  किया जाना है। जिस में उनके पहले चार दांत इम्प्लांट सर्जरी के माध्यम से लगाए गए। 55 वर्षीय रोगी के सभी दांतों में समस्या उत्पन होने के कारण निकालने पड़े। जिसके बाद रोगी को खाना खाने में दिक्कतों का सामना करना पड़ा।


श्री साई मल्टीस्पेशलिटी हॉस्पिटल एवं ट्रॉमा सेंटर नाहन में दन्त चिकित्सा विभाग में रोगी की इम्प्लांट सर्जरी की गयी। डॉ दिशा मनकू दन्त रोग विशेषज्ञ ने बताया की इस रोगी के पुरे दांत फिर से फिक्स किये जाने है, जिसके तहत मंगलवार को इम्प्लांट सर्जरी के माध्यम से चार दांत परमानेंटली फिक्स किये गए। इस सर्जरी में स्क्रू के माध्यम से दांतों को परमानेंटली फिक्स किया जाता। इस प्रकार की सर्जरी को करने के लिए यूँ तो कई सिटींग में रोगी को आना पड़ता है , लेकिन श्री साई हॉस्पिटल में ये चारों दांतों की सर्जरी एक ही दिन में की गयी। इस सर्जरी को मिनिमल इनवेसिव सर्जरी तकनीक से किया गया जिसमें अधिक ब्लीडिंग व् दर्द नहीं होता। रोगी एक दो दिन हल्का खाना खाने का परहेज रखता है। इस इम्प्लांट सर्जरी को डॉ आरुषि , डॉ दिशा और डॉ अंकुश गर्ग द्वारा किया गया ।

उन्होंने बताया की जिला सिरमौर में श्री साई मल्टीस्पेशलिटी हॉस्पिटल एवं ट्रॉमा सेंटर में हर प्रकार की दांतो की समस्या का इलाज किया जाता है। दांतों से सम्बंधित किसी भी समस्या के लिए अब सिरमौरवासिओं को नाहन से बाहर जाने की आवशयकता नहीं पड़ेगी। श्री साई हॉस्पिटल में हर गंभीर रोग का सफल इलाज़ उपलब्ध है।

श्री साई मल्टीस्पेशलिटी हॉस्पिटल एवं ट्रॉमा सेंटर के दन्त चिकित्सा विभाग में टेड़े -मेढे दांतों का इलाज , हड्डी में दांत फिक्स करना , नकली दांतों पर फिक्स्ड सेट , बिना दर्द दांत निकलना , दांतों पर फिक्स्ड कैप चढ़ाना , दांत को सफेद करना , दाँतो की हर प्रकार की सर्जरी , दांतों की सफाई , दाँतों की नसों का इलाज़, मसूढ़ों में से खून एवं पाइरिया का इलाज आदि का सफलता पूर्वक इलाज किया जाता है।



November 27, 2020 News

हिमाचल प्रदेश बना टॉप हॉटस्पॉट

कोरोना के प्रति सजग हों सभी सिरमौरवासी
निभाएं अपनी ज़िम्मेदारी
अपना और अपनों का कोविड टैस्ट जरूर करवाएं

कोरोना की जंग अभी जारी है… घबराएं नहीं हमारी पूरी तैयारी है

सिरमौरवासियों से अपील 

                               हम सब पिछले सात – आठ महीनों से कोविड बीमारी से लड़ रहे है। सरकार द्वारा लॉक डाउन लगाया गया और हम सब नागरिकों ने उसका पालन किया। हमें बहुत परेशानियां आई , सब ने इन परेशानियों का सामना किया और इस महामारी का डट कर मुकाबला किया। कुछ हद तक सरकार ने मदद की और कुछ हम सब ने कोशिश की, की हम इस सब से बाहर आ सकें।  सितम्बर माह के अंत में ऐसा लगा था की ये बीमारी अब ख़त्म हो जाएगी और ये सोच कर सब लापरवाह हो गए। लोगों ने मास्क पहनना बंद कर दिया, टैस्ट करवाने से बचने लगे। खुद को लक्षण होने पर भी समारोह में गए , सबके बीच रह कर त्यौहार मनाये। जिन परिवारों में कोरोना के कारण किसी की मृत्यु हुई उन्होंने भी छुपाया। पर इन सब बातों से आज हम एक खतरनाक परिस्थिति में पहुँच गयें है। आज हमें जागना होगा, मिल कर इस से लड़ना होगा। सरकार का और सारे सिस्टम का साथ देना होगा। इस महामारी को ख़त्म करने के लिए। आपकी इस कोशिश में श्री साईं हॉस्पिटल आपके साथ हैं। पिछले कई दिनों से हमारे सिरमौर वासिओं को कोविड टैस्ट की सुविधा, जल्दी रिपोर्ट के साथ घर पर ही उपलब्ध करवाई जा रही है। कोरोना पॉजिटिव मरीजों के लिए 4 इनवेसिव एवं 7 नॉन इनवेसिव वेंटीलेटर उपलब्ध है और हमारे हॉस्पिटल की टीम 24 घंटे आपकी सेवा में तत्पर है। ये सब सुविधा बड़े शहरों की अपेक्षा आधे से कम चार्ज में उपलब्ध है। हर मरीज की कंडीशन और वित्तीय स्थिति के अनुसार इलाज उपलब्ध है। आयुष्मान और हिम कार्ड धारक मरीजों को कैश लेस सुविधा है। आपका अपना श्री साईं हॉस्पिटल नाहन , हिमाचल प्रदेश का एक मात्र प्राइवेट हॉस्पिटल है जहाँ ये स्पेशलिज़्ड सुविधा ,NABL और ICMR से मान्यता प्राप्त 24×7 लैब की सुविधा के साथ दी जा रही है। हम 24×7 आपकी मदद के लिए तत्पर है। इस बीमारी से लड़ने के लिए आपका अपना हॉस्पिटल पूरी तरहां से तैयार है , इसलिए घबराएं नहीं।

टैस्ट जरूर करवाएं , इससे डरें नहीं। अपने लिए न सही , हमारे अपने बड़ों और बच्चों के लिए , समय पर टैस्ट करवाएं।

अपीलकर्ता
डॉ दिनेश बेदी निदेशक,
श्री साई हॉस्पिटल , नाहन
आपका अस्पताल सदा के लिए

कोरोना की इस जंग में हम है आपके साथ

 



November 24, 2020 News

रीना सिस्टर व संदीप बने “बेस्ट एम्प्लॉई ऑफ़ द मंथ”

श्री साईं मल्टीस्पेशलिटी हॉस्पिटल एवं ट्रामा सेंटर , नाहन में अक्टूबर माह के सर्वश्रेष्ठ कर्मचारी का चयन किया गया। इस माह श्री साईं मल्टीस्पेशलिटी हॉस्पिटल एवं ट्रामा सेंटर , नाहन में कार्येरत रीना व संदीप को “बेस्ट एम्प्लॉई ऑफ़ द मंथ” के ख़िताब से नवाजा गया। रीना सिस्टर नर्स के पद पर अपनी सेवाएं दे रहें है जबकि संदीप श्री साईं मल्टीस्पेशलिटी हॉस्पिटल एवं ट्रामा सेंटर , नाहन में फ्रंट ऑफिस एग्जीक्यूटिव के पद पर कार्यरत है।

 

रीना सिस्टर

 

संदीप , फ्रंट ऑफिस एग्जीक्यूटिव 

 

अक्टूबर माह में उत्कृष्ट कार्य करने पर इन दोनों का नाम चयनित किया गया। इस अवसर पर श्री साईं मल्टीस्पेशलिटी हॉस्पिटल एवं ट्रामा सेंटर , नाहन के निदेशक डॉ दिनेश बेदी जी ने सर्वश्रेष्ठ कर्मचारी चयनित होने पर दोनों को बधाई दी व् सभी कर्मचारियों को आगे आने वाले समय में सर्वश्रेष्ठ कर्मचारी बनने के लिए प्रोत्साहित किया। उन्होंने ने कहा की व्यक्ति किसी भी कार्य से जुड़ा हो उसे अपने कर्म क्षेत्र के साथ हमेशा ईमानदारी बरतनी चाहिए यही एक सफल व्यक्ति का मूल मन्त्र है।

सर्वश्रेष्ठ कर्मचारी कार्येक्रम का आयोजन आज श्री साईं मल्टीस्पेशलिटी हॉस्पिटल एवं ट्रामा सेंटर , नाहन के सभागार में किया गया। सर्वश्रेष्ठ कर्मचारी को प्रशश्ति पत्र एवं ट्रॉफी उपहार स्वरुप दिया गया।


Copyright by Shri Sai Hospital 2018. All Rights Reserved.